Shapoorji Pallonji Group : जुटा रहा ₹20000 करोड़, फंड का ऐसे होगा इस्तेमाल

SHAPOORJI PALLONJI GROUP

tvrfinnews.com

SHAPOORJI PALLONJI GROUP : जो फंड जुटाएगा, वह रुपये वाले बॉन्ड के रूप में होने की उम्मीद है। ग्रुप को जो फंड मिलेगा, उसके कुछ हिस्से का इस्तेमाल कर्ज के रीफाइनेंस के लिए होगा।

Shapoorji Pallonji Group ₹20,000 करोड़ जुटा रहा है, फंड का उपयोग कैसे होगा?

Shapoorji Pallonji Group, भारत के सबसे बड़े समूहों में से एक, ₹20,000 करोड़ जुटाने की योजना बना रहा है। यह फंड विभिन्न परियोजनाओं और ऋण चुकाने के लिए उपयोग किया जाएगा।

फंड का उपयोग कैसे होगा:

  • नई परियोजनाओं में निवेश: Shapoorji Pallonji Group इस फंड का उपयोग भारत और विदेशों में नई परियोजनाओं में निवेश करने के लिए करेगा। इनमें रियल एस्टेट, इंफ्रास्ट्रक्चर और ऊर्जा क्षेत्रों में परियोजनाएं शामिल हैं।
  • विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करना: समूह इस फंड का उपयोग अपनी कुछ विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करने के लिए भी करेगा। इनमें मुंबई में The Imperial Tower और चेन्नई में Marina Mall जैसी परियोजनाएं शामिल हैं।
  • ऋण चुकाना: Shapoorji Pallonji Group इस फंड का उपयोग अपने कुछ ऋणों को चुकाने के लिए भी करेगा। इससे समूह की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा और उसे भविष्य में निवेश करने के लिए अधिक धन मिलेगा।

फंड कैसे जुटाया जाएगा:

Shapoorji Pallonji Group : इस फंड को विभिन्न तरीकों से जुटाएगा। इनमें शामिल हैं

  • बैंकों से ऋण लेना: समूह बैंकों से ऋण लेकर फंड का एक हिस्सा जुटाएगा।
  • शेयरों का निर्गमन: समूह शेयरों का निर्गमन करके फंड का एक हिस्सा जुटाएगा।
  • ऋणपत्रों का निर्गमन: समूह ऋणपत्रों का निर्गमन करके फंड का एक हिस्सा जुटाएगा।

फंड जुटाने का प्रभाव:

Shapoorji Pallonji Group द्वारा ₹20,000 करोड़ जुटाने का समूह और भारतीय अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। इससे समूह को नई परियोजनाओं में निवेश करने और अपनी मौजूदा परियोजनाओं को पूरा करने में मदद मिलेगी। इससे समूह की वित्तीय स्थिति में भी सुधार होगा।

यह भारत के लिए भी फायदेमंद होगा क्योंकि इससे रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि Shapoorji Pallonji Group ने अभी तक फंड जुटाने के लिए कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्टों पर आधारित है।

Shapoorji Pallonji Group (एसपीजी) भारत के सबसे बड़े समूहों में से एक है। यह समूह ₹20,000 करोड़ जुटाने की योजना बना रहा है, जो कि रुपये वाले बॉन्ड के रूप में होगा। यह फंड विभिन्न परियोजनाओं और कर्ज चुकाने के लिए उपयोग किया जाएगा।

फंड का उपयोग:

  • नई परियोजनाओं में निवेश: एसपीजी इस फंड का उपयोग भारत और विदेशों में नई परियोजनाओं में निवेश करने के लिए करेगा। इनमें रियल एस्टेट, इंफ्रास्ट्रक्चर और ऊर्जा क्षेत्रों में परियोजनाएं शामिल हैं।
  • विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करना: समूह इस फंड का उपयोग अपनी कुछ विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करने के लिए भी करेगा। इनमें मुंबई में The Imperial Tower और चेन्नई में Marina Mall जैसी परियोजनाएं शामिल हैं।
  • कर्ज चुकाना: एसपीजी इस फंड का उपयोग अपने कुछ कर्जों को चुकाने के लिए भी करेगा। इससे समूह की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा और उसे भविष्य में निवेश करने के लिए अधिक धन मिलेगा।

कर्ज चुकाने का महत्व:

एसपीजी के पास काफी कर्ज है, जो कि समूह की वित्तीय स्थिति पर दबाव डालता है। इस फंड का उपयोग कर्ज चुकाने के लिए करने से समूह की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा और उसे भविष्य में निवेश करने के लिए अधिक धन मिलेगा।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि एसपीजी ने अभी तक फंड जुटाने या कर्ज चुकाने के लिए कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्टों पर आधारित है।

Shapoorji Pallonji Group: ₹20,000 करोड़ जुटाने की योजना

Shapoorji Pallonji Group (एसपीजी) भारत के सबसे बड़े समूहों में से एक है। यह समूह ₹20,000 करोड़ (240 करोड़ डॉलर) का फंड जुटाने की योजना बना रहा है।

फंड का उपयोग:

  • नई परियोजनाओं में निवेश: एसपीजी इस फंड का उपयोग भारत और विदेशों में नई परियोजनाओं में निवेश करने के लिए करेगा। इनमें रियल एस्टेट, इंफ्रास्ट्रक्चर और ऊर्जा क्षेत्रों में परियोजनाएं शामिल हैं।
  • विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करना: समूह इस फंड का उपयोग अपनी कुछ विद्यमान परियोजनाओं को पूरा करने के लिए भी करेगा। इनमें मुंबई में The Imperial Tower और चेन्नई में Marina Mall जैसी परियोजनाएं शामिल हैं।
  • कर्ज चुकाना: एसपीजी इस फंड का उपयोग अपने कुछ कर्जों को चुकाने के लिए भी करेगा। इससे समूह की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा और उसे भविष्य में निवेश करने के लिए अधिक धन मिलेगा।

लेंडर्स:

एसपीजी इस फंड को जुटाने के लिए सरकारी कंपनी Power Finance Corporation (PFC) समेत कुछ लेंडर्स से बातचीत कर रहा है।

अन्य लेंडर्स:

  • State Bank of India (SBI)
  • ICICI Bank
  • Axis Bank
  • HDFC Bank

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि एसपीजी ने अभी तक फंड जुटाने या लेंडर्स के साथ बातचीत के लिए कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्टों पर आधारित है।

यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि एसपीजी पर काफी कर्ज है, जो कि समूह की वित्तीय स्थिति पर दबाव डालता है।

यह फंड जुटाने से एसपीजी को अपनी वित्तीय स्थिति में सुधार करने और भविष्य में निवेश करने के लिए अधिक धन प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

tvrfinnews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *